Tag Archives: पर्यावरण

उदयपुर का जल प्रबंधन – अतीत और आज

उदयपुर और उदयपुर के आसपास की झीलें तो अपने पुरखों के उत्कृष्ट “जल प्रबंधन” की जीती जागती तस्वीरें हैं ही, इस शहर के स्थल चयन से ले कर शहरकोट के अंदर के भू उपयोग में हरियाली के प्रावधान, तत्कालीन भवनों … Continue reading

Posted in जल प्रबंधन, जल संरक्षण, नगरीय विकास, पर्यावरण, हिंदी प्रभाग (Hindi Section) | Tagged , , , , , , , | Leave a comment

“विश्व शौचालय दिवस – 19 नवम्बर” – भारत में उपेक्षित क्यों ?

संयुक्त राष्ट्र संघ ने अच्छे स्वास्थ्य के लिये शौचालय की महत्ता की ओर ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से प्रति वर्ष 19 नवम्बर को “विश्व  शौचालय  दिवस” मनाने का एक प्रस्ताव पारित किया है। विश्व बैंक की एक रिपोर्ट के अनुसार … Continue reading

Posted in नगरीय विकास, पर्यावरण, विकास योजनाएं, स्वास्थ्य, हिंदी प्रभाग (Hindi Section) | Tagged , , , , , , , | Leave a comment

सीएफ़एल (CFL) बल्ब और ट्यूब – सोच कर लगाएँ और खतरों से रहें सावधान

-ज्ञान प्रकाश सोनी बिजली की कमी और इसकी बढ़ती लागत को ध्यान में रखते हुए बिजली की बचत के लिये  सीएफ़एल बल्ब और ट्यूब लगाना समय की आवश्यकता है इसलिये इन्हें लगाएं ज़रूर पर इसके साथ ही इसके ख़तरों से … Continue reading

Posted in घरेलू नुस्के, पर्यावरण, विविध, स्वास्थ्य | Tagged , , , , , , , , , , , , , , | 1 Comment

विश्व जल दिवस, 2012 – आपकी भोजन थाली में कितना पानी ?

आज विश्व में हम 7 अरब लोग हैं जिसमें से लगभग 1 अरब लोग अपनी भूख को प्रयास करने पर भी शांत नहीं कर पाते हैं। सन् 2050 तक विश्व में 2 अरब लोगों की और वृद्धि होने का अनुमान … Continue reading

Posted in जल प्रबंधन | Tagged , , , , , , , , , , , | Leave a comment

विकास कार्य और गांधीवाद

विकास कार्यों के निष्पादन मे विगत कुछ वर्षों से मानव श्रम के स्थान पर मशीनों से खुदाई करने, मसाला व गिट्टी मिलाने की परिपाटी बढ़ रही है और परम्परागत रूप से अपनायी जाने वाली निर्माण विधियाँ, जैसे चूना मसाले में … Continue reading

Posted in विकास योजनाएं | Tagged , , , , , , , | Leave a comment

उदयपुर की आयड़ नदी – सुरम्य कैसे हो ?

उदयपुर नगर अपनी झीलों, बगीचों, पुरानिर्माणों, समशीतोष्ण मौसम, गौरवमयी इतिहास, आत्मसम्मान के लिये संघर्षरत रहने की परम्परा आदि के लिये विख्यात है। पर्यटकों की इस नगरी का आकर्षण और बढ़ाने के लिये लगातार प्रयास हो रहे हैं और आयड़ नदी … Continue reading

Posted in अपना उदयपुर, विकास योजनाएं | Tagged , , , | Leave a comment

अवैध निर्माणों का मूल कारण – उत्तरदायित्व निर्धारण का अभाव

स्वाधीनता के बाद की उल्लेखनीय कुपरिपाटियों में अतिक्रमण और अवैध निर्माण एक मुख्य कुपरिपाटी है और यह प्रवृति बढ़ती ही जा रही है जिसके चपेटे में केवल बिलानाम सरकारी भूमि ही नहीं, आरक्षित वन भूमि, देवस्थान भूमि और चरागाहों के … Continue reading

Posted in UNCLASSIFIED - अवर्गीकृत | Tagged , , , , , | Leave a comment

लताएं – मन को लुभाएं

लताएं – मन को लुभाएं – ज्ञानप्रकाश सोनी पर्यावरण संरक्षण और पानी बचाने का महत्व किसी से छिपा नहीं है। पौधे कार्बन डाई ऑक्साइड अवशोषित कर हमें ऑक्सीजन देते हैं और इनके पत्ते चलती हवा से धूल के कण अपनी … Continue reading

Posted in पर्यावरण | Tagged , , , , | Leave a comment